सुविचार और कर्मठता से तनाव दूर कैसे करें (कम करने के उपाय)

tanav km Depression stress First step

तनाव कम करने के उपाय. depression(Stress) दूर करने उपाय हिंदी में घरेलु उपाय हिन्द में? lekhak Pramod Bhatra Ne Tanav Ko Kam Karne Ka Tarika. Ek Kahani Ki Tarah Btaya Hai. Kahani ko Padh Kar Hum Apne Suvichar​ or Karmth-ta se Tanav Ko Dur Kiya Jaa Sakta Hai. सुविचार और कर्मठता से तनाव को दूर कैसे करें. तनाव और असामान्य रक्तचाप का मुख्य कारण है- समस्याएँ(Problems). इसलिए यह बहुत ही तर्कसंगत बात है कि पहले हम अपनी समस्याओं को कम करें. तभी हम अपने तनाव और असामान्य रक्तचाप को कम करने के योग्य हो पाएँगे.

प्रासंगिक रूप से (संयोग से) हम अपनी समस्याओं से छुटकारा नहीं पा सकते. जब तक कि हम अंतिम यात्रा का निर्णय न लें. इसके बारे में अधिक विचार करना भी अपने आप में बहुत बड़ा तनाव है.

तनाव कम कैसे करे, दूर करने उपाय in हिंदी | Depression(Stress) कम कैसे करे?

हम समस्याओं से क्यों घिरे हुए हैं? अगर अनुमानत: कहा जाए तो एक-तिहाई समस्याएँ इसलिए हैं, क्योंकि हम जीवित और जोशीले हैं, दूसरी एक-तिहाई समस्याएँ हमारी स्वयं की पैदा की हुई हैं और शेष एक-तिहाई समस्याएँ हमारे लालच और इज्जत के कारण होती हैं। अब अगर हमारे पास एक जादू की छड़ी होती तो हम अपनी समस्याओं को सुलझा लेते। हम एक ऐसी मूर्खतापूर्ण खोज कर रहे हैं, जो नहीं हो सकती।

तब क्या किया जाए? खैर, मैं इन सबके बारे में नहीं जानता, परंतु मैं यह बता सकता हूँ कि मैं क्या करता हूँ. एक बार फिर पढ़िए कि मैंने क्या कहा है और आप अनुभव करेंगे कि केवल जीवन ही सही समझ और समस्याओं को कम करने के योग्य हो पाएँगे। ऐसा आपको तत्काल नहीं, अपितु धीमी गति से करना है। नियमित रूप से एक-एक करके प्रत्येक समस्या को सावधानी तथा साधारण योजनाओं के द्वारा समाधान की ओर ले जाना है.

Depression (तनाव) कम कैसे करे-घरेलु उपाय

याद रखिए कि सर्वोत्तम नहीं बनना है, क्योंकि सर्वोत्तम उत्तम का शत्रु है, जबकि मूर्खतापूर्ण समस्याओं के समाधान के लिए दूसरा या तीसरा सर्वोत्तम समाधान पर्याप्त हो सकता है।
आइए, मैं आपको अपना हाल का ही एक अनुभव बताता हूँ। मैं अपने बेटे और परिवार के साथ अमेरिका में 36 दिनों का अवकाश बिताकर लौटा था। यह मेरी जिंदगी का पहला ही अवकाश था। लौटने पर मैंने अपने आपको हजारों समस्याओं से घिरे हुए पाया। प्रत्येक समस्या ने मुझे तनाव और खिंचाव ही दिया.

यहाँ मेरे परिवार में बीमारी और मौतें थीं, भुगतान करने के लिए बहुत से बिल थे, बकाया काम था, सूचना-पत्र थे, जिनके कारण मैं बहुत पिछड़ गया था। खैर, कई दिनों की स्तब्धता के बाद जल्दी ही मैंने अपनी मानसिक अस्थिरता का परित्याग कर दिया और एक समय में एक समस्या का समाधान करना आरंभ कर दिया। अपने बौद्धिक स्तर के अनुरूप मैंने अपने विचारों को योजनाबद्ध तरीके से, जिनका केवल एक भाग एक समय में पूरा होता हो, अपनी समस्याओं पर लागू किया। इस तरीके से मैं हर दिन दस से पंद्रह समस्याओं के समाधान करने के योग्य हो गया और एक ही महीने में मैंने अपना सारा पिछला कार्य समाप्त कर दिया। व्यक्तिगत रूप से—जब आपके लिए बहुत सारी समस्याएँ अत्यधिक तनाव या खिंचाव पैदा करें तो निम्‍नलिखित उपाय करें।

Stress कम कैसे करे और कम करने के उपाय चिंता दूर कैसे करे घरेलु उपाय हिंदी

  1. सोचिए ऐसी स्थिति में ‘सोचना’ समस्याओं के समाधान हेतु बहुत ही उत्तम रास्ता हो सकता है। इससे ‘कौए और जग’ की कहानी याद करने में सहायता मिलती है। इसी तरह की दूसरी कहानियों और घटनाओं को याद कीजिए।
  2. पूछिए, पूछिए, पूछिए। स्वयं अपने आप से और अन्य लोगों से पूछिए कि उन्होंने यह कार्य अच्छे तरीके से किस प्रकार किया? शायद बहुत से कार्यों से कुछ प्राप्त न हो या फिर वह आपकी दूसरी गतिविधियों में सहायक बन जाए। मत भूलिए कि मूर्खतापूर्ण से भी आपको बुद्धिमत्तापूर्ण और सामान्य ज्ञान के उत्तर प्राप्त होंगे।
  3. अब इसे कीजिए। कार्य को करना आरंभ कीजिए। इस बात को भूलिएगा नहीं कि समस्या के समाधान का प्रथम चरण आरंभ हो गया है। मैं इस बात से सहमत हूँ कि प्रथम चरण ही एक सबसे अधिक कठिन स्तर का है। परंतु इस चरण में पहुँचने के पश्‍चात् काम को टालते रहने की स्थिति स्वत: ही समाप्त हो जाती है—जो अपने आप में स्वयं ही एक समस्या है या इस तरह कहिए कि एक बीमारी है। निस्संदेह पहले अपनी समस्याओं की प्राथमिकता को मत भूलिए। वे व्यक्ति, जो दूसरों के प्रतिनिधित्व में ‘ग’ श्रेणी के कार्य करते हैं, परंतु वे जितना करते हैं उसका निरीक्षण-परीक्षण करना नहीं भूलते हैं।

यहाँ सदैव से ही किसी भी अंधकारमय स्थिति में एक सुनहरी आशा की किरण अवश्य फूटती है, जो आपकी समस्याओं को कम करती है तथा आपको अवसर का लाभ उठाने की प्रेरणा प्रदान करती है। प्रत्येक समस्या के लिए यहाँ अनगिनत समाधान हो सकते हैं और समाधान अवसरों की ओर संकेत करते हैं। कोलंबस को उसकी आशा की सुनहरी किरण संसार की नई खोज में दिखाई दी। वास्तव में तभी उसकी खोज की कोशिश ने भारत की ओर एक व्यापारिक कूच किया।

Suvichar or Karmthta se Tanav Dur Kaise Karte Hai, Tanav Kaise Hota Hai, Tanav Hone Ki Wajah, Tanav Kyo Hota, Suvichar or Karmthta Se Tanav Ko Dur Kaise Kiya Jata Hai.

Leave a Comment